आइये जानते है बारिश को ले कर जारी होने वाले ऑरेंज और रेड एलर्ट क बारे में

मौसम विभाग द्वारा बारिश में ऑरेंज एलर्ट, रेड एलर्ट, ग्रीन एलर्ट, येलो एलर्ट जारी किये जाते है । मौसम विभाग द्वारा मुंबई में भारी बारिश के चलते एलर्ट जारी कर दिया गया है । मौसम विभाग द्वारा बारिश के मौसम में अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग एलर्ट जारी किए जाते और इन्हें विभिन्न रंगों जैसे कि लाल, हरा,पीला नाम से जाना जाता है । विभिन्न रंगों के एलर्ट का क्या मतलब होता है और यह बारिश की किस स्थिति को दर्शाता है सब जानकारी आगे दी जा रही है ।

मौसम विभाग द्वारा जब ग्रीन एलर्ट जारी किया जाता है तो इसका सीधा मतलब होता किसी भी तरह के कोई परेशान होने की जरूरत नहीं है और पूर्वानुमान  के मुताबिक हल्की या मध्यम बारिश ही रहेगी । वही यदि मौसम विभाग द्वारा येलो एलर्ट जारी किया जाता है इसका मतलब है कि संबंधित अधिकारियों को शहर के हालात के बारे में समय-समय पर पूरी जानकारी रखनी है और कितनी बारिश कहां हो रही है इस बात की भी जानकारी रखनी है ।

ऑरेंज एलर्ट उस समय किया जाता है संबंधित अधिकारियों को उचित कदम उठाने के लिए तैयार रखने के लिए कहा जाना हो और यह भारी बारिश के लिए एक पूर्वानुमान भी जारी करता है । जिसका मतलब यह होता है कि हालात भारी बारिश की वजह से किसी भी वक्त खराब हो सकते हैं और संबंधित विभाग को पूरी तरीके से तैयार रहने की जरूरत है जिससे बिना देरी की सुरक्षा के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जा सकें । वही अगर बात रेड एलर्ट की करे तो रेड एलर्ट भारी बारिश की चेतावनी जारी करने के लिए दिया जाता है ।

इसका मतलब होता है कि जिस क्षेत्र में रेड एलर्ट जारी किया गया है वहां पर भारी बारिश की संभावना है और अगले 24 घंटे में 200 मिलीमीटर से अधिक तक की बारिश हो सकती है और अभी मौसम विभाग द्वारा मुंबई में रेड एलर्ट जारी किया गया है । मौसम विभाग के अनुसार यदि बारिश 15 से 65 मिली की होती है तो उसे मध्यम बारिश कहा जाता है । यदि बारिश 65 से 115 मिलीमीटर तक हो तो उसे भारी बारिश कहा जाता है और यदि 115 से 204 मिलीमीटर तक के बीच की बारिश हो तो उसे भारी बारिश कहा जाता है । 204 मिलीमीटर से अधिक की बारिश की संभावना हो तो अत्यंत भारी बारिश कहा जाता है और उसके लिए रेड एलर्ट जारी किया जाता है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.