ओएफइटी बैक्टीरियल डिवाइस की खोज

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी ) गुवाहाटी के वैज्ञानिकों ने ऑर्गेनिक फील्ड इफेक्ट ट्रांसिस्टर ओएफइटी आधारित एक अनोखे बैक्टीरियल डिवाइस खोज निकाला है जिसके माध्यम से बैक्टीरिया की पहचान आसानी से हो सकेगी आईआईटी गुवाहाटी की प्रोफेसर परमेश्वर के अय्यर के अनुसार इस समय चिकित्सा प्रक्रिया समय लेने वाली हैं और कई बार उनके वांछित परिणाम नहीं मिल पाते हैं ऐसे में इस नई तकनीक से पारंपरिक जांच की तरीकों की तुलना में काफी जल्दी हानिकारक बैक्टीरिया का पता लगाकर उनका उपचार किया जा सकता है

उन्होंने यह भी कहा कि पारंपरिक जांच के तरीके महंगे होते हैं और  उसका इस्तेमाल करने के लिए प्रशिक्षित कर्मचारियों की जरूरत होती है उनके अनुसार इस नई तकनीक से ब्लड शुगर और गर्भावस्था का की जांच आसानी से एक छोटी सी किट के माध्यम से की जा सकती है जिसे हाँथो से पकड़ा जा सकता है उन्होंने बताया कि आईआईटी के शोधकर्ताओं ने एक पोर्टेबल बैक्टीरिया  डिटेक्शन किट तैयार की है  जो सेंसर की सहायता से कोशिकाओं में बैक्टीरिया का पता लगा सकता है इस डिवाइस की मदद से शरीर के किसी भी भाग में बैक्टीरिया इन्फेक्शन का पता आसानी से लगाया जा सकेगा यह डिवाइस बैक्टीरिया के सकारात्मक और नकारात्मक प्रभावों के बीच अंतर आसानी से कर लेती है

बैक्टीरिया एक सूक्ष्मजीव होते हैं जिन्हें आंखों से नहीं देखा जा सकता इनको माइक्रोस्कोप की सहायता से देखा जा सकता है बहुत सारे ऐसे बैक्टीरिया होते हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी होते हैं लेकिन कुछ बैक्टीरिया ऐसे भी होते हैं जो घातक बीमारियों को जन्म देते हैं बीमारी पैदा करने वाले बैक्टीरिया में एंडोटॉक्सिन और एक्सोटॉक्सिन नामक विषैला तत्व पाया जाता है मोनिंजायटिस बैक्टीरिया  हमारे ब्रेन और रीढ़ की हड्डी को ढकने वाली एक परत मोनिनजेटिस होती है जिसमें सूजन ला देती है और समय रहते इसका इलाज ना हो तो इससे ब्रेन डैमेज और मृत्यु का खतरा रहता है इस डिवाइस की मदद से खतरनाक बैक्टीरिया की जांच आसानी से की जा सकेगी और बैक्टीरियल इनफेक्शन का आसानी से पता लगा कर समय पर उनका इलाज किया जा सकेगा

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.