क्या सच में ब्रोकली प्रदूषण से राहत प्रदान करती है !!

दुनिया भर में प्रदूषण और ग्लोबल वार्मिंग की समस्या देखी जा रही है । इनदिनों भारत के दिल्ली शहर में भी प्रदूषण की वजह से चर्चा में है । वहां की हवा खराब हो चुकी है और प्रदूषण का स्तर बढ़ता जा रहा है । दिल्ली में प्रदूषण का स्तर काफी ज्यादा बढ़ गया है ।

दिल्ली की हानिकारक हवा में रहने वाले नागरिकों के लिए सांस लेना मुश्किल हो गया है और लोग प्रदूषण से निजात पाने के लिए कई सारे उपाय अपना रहे हैं । वायु प्रदूषण से बचने के लिए हवाओं को प्यूरिफाई करने के लिए लोग डिटॉक्स, क्लीनिंग इसके अलावा प्राकृतिक उपाय अपना रहे हैं ।

लोग फेफड़े को प्रदूषण से बचाने के लिए एयर प्यूरीफायर और फेस मास्क का सहारा ले रहे हैं । उपकरण हालांकि काफी महंगे हैं लेकिन इनके फायदे भी हैं ।

प्रदूषण से बचने के लिए इन उपायों को अपनाने के साथ ही जरूरत है कि अपने खाने में सही पोषक तत्वों को शामिल किया जाए और अपने आसपास की इकोसिस्टम को साफ करने के साथ ही प्राकृतिक और सक्रिय रूप से घातक प्रदूषण को कम करने में सहयोग करने की कोशिश करें ।

केंद्रीय मंत्री स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने लोगों को स्वस्थ रहने के लिए कुछ टिप्स दिए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने ट्वीट करके लोगों को गाजर खाने की सलाह दी और कहा कि यह प्रदूषण से होने वाली बीमारियों से बचाता है । गाजर के अलावा डॉ हर्षवर्धन ने ब्रोकली का भी नाम लिया था ।

चलिए जानते हैं ब्रोकली कैसे प्रदूषण से होने वाली बीमारियों से हमारी रक्षा करती है – ब्रोकली गोभी के परिवार से ही आती है और इसमें कई सारे पोषक तत्व होते हैं । इसलिए लोग ब्रोकली को सुपरफूड भी कहते हैं ।

ब्रोकली में फाइबर काफी ज्यादा मात्रा में पाया जाता है और यह पाचन क्रिया को मजबूत करता है और टैक्सेन से लड़ने में मदद करता है । टैक्सेन हमारे शरीर में हवा, धूल, खाने या फिर प्रदूषण की वजह से आ जाते हैं । ब्रोकली में एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन ए, विटामिन बी कांप्लेक्स,बीटा कैरोटीन इसके अलावा फोलिक एसिड पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है ।

ये सारे पोषक तत्व इन्फ्लेमेशन से बचाव करते हैं और प्रदूषण की वजह से होने वाली बीमारियों और सेल मेंब्रेन को मजबूत करने का काम करते हैं ।

ब्रोकली का सेवन करने से ब्लड शुगर भी नियंत्रित रहता है और यह कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियों से भी हमारी रक्षा करता है ।

ब्रोकली में प्रदूषक को शरीर से बाहर करने की क्षमता होती है । ब्रोकली के स्प्राउट्स के अलावा इसके डंठल शरीर के लिए काफी फायदेमंद है । चीन के एक शोध में पाया गया कि ब्रोकली के स्प्राउट्स डिटॉक्स से और प्रदूषण से लड़ने में सहायक हैं ।

एक शोध में दावा किया गया है कि आम चाय पीने वालों की तुलना में ब्रोकली के स्प्राउट्स की चाय का सेवन करने वालों में बेंजीन और एक्रोलीन शरीर से जल्दी बाहर निकल जाते हैं । इसलिए महंगा एयर प्यूरीफायर खरीदने के बजाय ब्रोकली का सेवन रोजाना करें ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.