ग्रीन टी का अधिक सेवन है खतरनाक

ग्रीन टी आज कल लोगों में खासा लोकप्रिय हो गया है खास कर उन लोगों में जिनका वजन अधिक है और वो अपना वजन कम करना चाहते है जब से टी बैग में मिलने लगा तब से यह ज्यादा इस्तेमाल होने लग गया है

ग्रीन टी में पॉलीफिनॉल और एलथियानाइल नामक तत्व मौजूद होता है जो वजन कम करने में सहायक है लेकिन ग्रीन टी का अधिक सेवन सेहत के लिए नुकसानदेह भी हो सकता है

ग्रीन टी में कैफीन पाया जाता है और इस लिए ग्रीन टी  का अधिक सेवन से सर दर्द और अनिंद्रा की समस्या उत्पन्न हो सकती है और इससे हृदय की धड़कन अनियमित हो जाती है और सीने में जलन की समस्या हो सकती है हालांकि काफी में जितनी मात्रा में कैफीन पाया है उतना ग्रीन टी में नही पाया जाता

ग्रीन टी में टैनिन नामक तत्व भी पाया जाता है यह शरीर मे खाने से आयरन मिलने की प्रक्रिया को कम कर देता है जिससे शरीर मे खून की कमी भी हो सकती है और एनीमिया और पेट से जुड़ी समस्याएं उत्पन्न होने की संभावना रहती है

स्तनपान और गर्भवती महिलाओं को ग्रीन टी का सेवन नही करना चाहिए कई रिसर्च में देखने को मिला है कि ग्रीन टी के सेवन से गर्भपात की संभावना बढ़ जाती है

एक रिसर्च में सामने आया कि ग्रीन टी के अत्यधिक इस्तेमाल से पुरुषों में पाए जाने वाले टेस्टोस्टेरोन नामक हॉरमोन के स्तर में कमी हो जाती है जिससे सेक्स लाइफ और प्रजनन क्षमता प्रभावित होती है

यदि शरीर मे खून को कमी है तो ऐसे व्यक्ति को ग्रीन टी का सेवन नही करना चाहिए और जिन लोगो को ग्रीन टी के सेवन से गैस की समस्या हो उन्हें ग्रीन टी में दूध मिला कर इसका सेवन करना चाहिए ग्रीन टी कभी भी खाली पेट या फिर खाने के तुरंत बाद नही पीना चाहिए

अगर मान लें कोई दिन में तीन कप से ज्यादा ग्रीन टी पी रहा है तो उसे उसी के अनुसार पानी भी अधिक पीना चाहिए सामान्यत दिन में तीन से चार बार से अधिक ग्रीन टी का सेवन नही करना चाहिए

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.