चीन को मिल रहा अंतरिक्ष से रेडियो सिगनल

चीन के टेलीस्कोप को अंतरिक्ष से रेडियो सिग्नल मिल रहे हैं । इसके पहले कनाडा को भी अंतरिक्ष से रेडियो सिग्नल मिलने की बात सामने आई थी । चीन के वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष से मिलने वाले सिग्नल का परीक्षण करना शुरू कर दिया है । चीनी खगोलविदों को अंतरिक्ष की गहराई से मिलने वाले रेडियो सिगनल की बात सामने आई है । चीन के खगोलविदों  ने बताया कि उन्हें फास्ट रेडियो बैंड्स जैसे सिग्नल मिल रहे हैं और माना जा रहा है कि यह सिग्नल पृथ्वी से 3 बिलियन की दूरी से आ रहे हैं ।

चीनी विज्ञान एकेडमी के राष्ट्रीय खगोलीय वेधशाला के शोधकर्ताओं का कहना है कि वैज्ञानिकों ने 500 मीटर के स्फेरिकल रेडियो टेलीस्कोप के जरिए अंतरिक्ष से मिलने वाले रहस्यमय रेडियो सिग्नल का परीक्षण कर रहे है और शोधकर्ता बड़ी सतर्कता से इन सिग्नल को परख रहे हैं । दरअसल फास्ट रेडियो बैंड्स यूनिवर्स की सबसे चमकीले धमाके के रूप में जाना जाता है और बहुत तेज होते हैं क्योंकि यह कुछ समय के लिए ही होते हैं जैसे कि बस कुछ मिलीसेकेंड्स के लिए ।

लेकिन इनकी उत्पत्ति कैसे होती हैं अभी इसका कारण नहीं पता चल पाया है । लेकिन चीनी शोधकर्ताओं का कहना है कि बार-बार ऐसे आवाज की खोज से इसकी उत्पत्ति के कारणों का पता लगाने की कोशिश भी लोग कर रहे हैं । चीनी वैज्ञानिकों का कहना है कि उन्होंने अत्यधिक संवेदनशील फास्ट  रेडियो बैंड्स को इंस्टॉल किया है और विशालकाय टेलीस्कोप पर 1920 रिसीवर है और इसका इस्तेमाल इनकी उत्पत्ति का पता लगाने के लिए किया जा रहा है ।

पहली बार 2015 में एफआरबी ऑब्जर्वेटरी द्वारा इनको खोजा गया था, चीन के इस टेलीस्कोप में 500 मीटर डायमीटर वाला डिक है जिसे दुनिया का सबसे बड़ा फ़ील्ड रेडियो टेलीस्कोप है । चीन के पहले कनाडा को भी अंतरिक्ष से रेडियो सिग्नल मिलने की बात सामने आई थी । वही भारत के इसरो द्वारा लांच किया गया चंद्रयान 2 का विक्रम लैंडर से चाँद की सतह पर उतरने के कुछ मिनट पहले ही उसका धरती से संपर्क टूट गया और अब दोबाराह से संपर्क करने की कोशिश की जा रही है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.