जानकर होगी हैरानी बिना शराब पिए ही पेट में बन रहा एल्कोहल

शराब को अल्कोहल भी कहा जाता है और शराब के सेवन से शरीर मे एल्कोहल पाया जाता है । इसलिए शराब के सेवन से कई सारी बीमारियां होने की संभावना रहती है । लेकिन डॉक्टरों ने एक नई बीमारी की पहचान के हैं ।

यह सुनने में भले ही थोड़ा अटपटा लग रहा है लेकिन यह सच है कि इस बीमारी की वजह से इंसान के पेट में ही शराब बन रही है । इस चौकाने वाली बात का खुलासा न्यूयॉर्क की मेडिकल यूनिवर्सिटी में हुए एक शोध से पता चला है ।

इस शोध से जुड़े डॉक्टरों का कहना है कि इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति के शरीर में एक फंगस बन रहा है जो कार्बोहाइड्रेट को अल्कोहल यानी शराब में बदल देता है । यानी कि बिना शराब का सेवन किए ही इंसान के पेट में शराब यानी कि एल्कोहल पाई गई है ।

दरअसल अमेरिका में रहने वाले एक 46 साल के व्यक्ति को पुलिस ने 2014 में गिरफ्तार किस लिए किया था क्योंकि वह शराब पीकर गाड़ी चला रहा था और उस पर जुर्माना लगाया गया था । लेकिन उस व्यक्ति का कहना था कि उसने शराब नहीं पी है ।

इसके बाद डॉक्टरों ने उसकी जांच की तो इस बात का खुलासा हुआ कि उसने शराब नहीं पी है । लेकिन उसके शरीर में अल्कोहल है और इसी के बाद डॉक्टरों ने उस व्यक्ति के पेट में पाए जाने वाले अल्कोहल पर शोध करना शुरू किया कि आखिर यह कैसे आया ।

इस विषय पर अध्ययन करने के लिए न्यूयॉर्क स्थित रिचमंड यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर के डॉक्टरों ने इस मामले पर अध्ययन किया ।

अध्ययन से निकलने वाला निष्कर्ष डॉक्टर को हैरान कर दिया । क्योकि इस शोध से पता चला कि उस व्यक्ति को ऑटो ब्रेबरी सिंड्रोम नाम की बीमारी हो गई है । इस ऑटो ब्रेवरी सिंड्रोम की वजह से ही बिना शराब पिये ही उस व्यक्ति के शरीर में अल्कोहल का निर्माण होने लगा था ।

इस अध्ययन को करने वाली शोधकर्ताओं की टीम का कहना है कि यह एक दुर्लभ बीमारी है । इस शोध से जुड़े डॉ बारबरा कार्डेल का मानना है कि इस बीमारी की वजह से पिछले 30 सालों में अब तक सिर्फ 5 लोगों के मौत हुआ है ।

ऑटो ब्रेवरी सिंड्रोम बीमारी की वजह से एक फंगस इंसान के शरीर में पाए जाने वाले कार्बोहाइड्रेट को अल्कोहल में बदल देता है और इस वजह से शरीर में अल्कोहल की मात्रा बढ़ जाती है ।

यही उस व्यक्ति के साथ भी हुआ था और बिना शराब पिए ही उसके शरीर में अल्कोहल की मात्रा बढ़ गई थी, जिससे व्यक्ति के शरीर में बिना शराब पिए ही उसके शरीर में अल्कोहल की मात्रा पाई गई ।

दरासल उस व्यक्ति के साथ सन 2011 में एक हादसा हुआ था और उसके बाद उस व्यक्ति ने एंटीबायोटिक लेना शुरू कर दिया ।

जिसकी वजह से बाद में उस व्यक्ति को ऑटो ब्रेवरी सिंड्रोम नामक बीमारी हो गई और बिना शराब के सेवन किए ही इस बीमारी की वजह से उस व्यक्ति को हर बार ब्रीथ एनालाइजर में शराब के नशे में होना पाया गया ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.