नासा ने खोजा पृथ्वी जैसा दिखने वाला एक ग्रह

नासा ने खोजा पृथ्वी जैसा दिखने वाला एक ग्रह, दो सूरज और कई महासागर मिले

वैज्ञानिक हर साल ब्रह्मांड की खोज करते हैं और हर बार यह साबित होता है कि हम पृथ्वीवासी इस दुनिया में अकेले नहीं हैं। इससे जुड़ा एक सवाल हमारे मन में हमेशा रहता है कि ब्रह्मांड में हमारे जैसा कोई दूसरा संसार भी है?

पृथ्वी से 70 गुना बड़ा ग्रह पानी से ढका है

इसी कड़ी में वैज्ञानिकों के एक दल ने पृथ्वी से लगभग 100 वर्ष प्रकाश दूरी पर एक ऐसे ग्रह की खोज की है जो पूरी तरह से पानी से ढका हुआ है। नासा के वैज्ञानिकों के अनुसार इस ग्रह का नाम TOI-1452 b है। यह गोल्डीलॉक्स क्षेत्र में मौजूद है। यह ब्रह्मांड का वह क्षेत्र है जहां न तो बहुत अधिक तापमान होता है और न ही बहुत ठंडा तापमान। ऐसे में वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि इस ग्रह पर पानी मौजूद हो सकता है।

वैज्ञानिकों ने इस खोज को लेकर बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि यह ग्रह पृथ्वी से करीब 70 गुना बड़ा हो सकता है। नासा ने ट्रांजिटिंग एक्सोप्लैनेट सर्वे सैटेलाइट (टीईएसएस) का उपयोग करके इस ग्रह की खोज की।

सबसे अच्छा ग्रह जो कभी पृथ्वी जैसा दिखता था

नासा के मुताबिक इस ग्रह की खोज बेहद दिलचस्प है। मुझे आशा है कि इस पर पानी है। क्योंकि इस बात के भी संकेत मिलते हैं कि इस ग्रह पर कई महासागर हैं। साथ ही यह भी अनुमान लगाया जा रहा है कि यह ग्रह हाइड्रोजन और हीलियम के वातावरण वाला चट्टानी ग्रह भी हो सकता है।

मॉन्ट्रियल विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने इस ग्रह की खोज की है। इस शोध के प्रमुख लेखक चार्ल्स कैडियक्स के अनुसार, यह ग्रह (TOI-1452 b) अब तक खोजे गए महासागरीय ग्रहों में सबसे अच्छा है। उनका अनुमान है कि ग्रह के द्रव्यमान का 30 प्रतिशत पानी हो सकता है। यह पता लगाने के लिए कि किस जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप का उपयोग करना है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस ग्रह के दो सूर्य हैं। यह ग्रह हर 11 दिन में एक बार अपने लाल बौने तारे की परिक्रमा करता है। यह एक दोहरे तारे की परिक्रमा भी करता है, जहाँ दो तारे एक दूसरे की परिक्रमा करते हैं।

 

यह भी पढ़ें :–

करोड़पति है ये गांव, एक भी मच्छर पकड़ कर दिखाओ तो 400 रुपए मिलते हैं!

 

 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.