मधुमेह रोगियों के लिए रामबाण है काले चने का पानी

मधुमेह रोगियों के लिए रामबाण है काले चने का पानी, मिलेंगे चमत्कारी फायदे, जानें कैसे करें इसका सेवन

काले चने में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन और विटामिन प्रचुर मात्रा में होते हैं। साथ ही काले चने में एंटीऑक्सीडेंट भी भरपूर मात्रा में होते हैं।

काला चना शरीर में अतिरिक्त ग्लूकोज के निशान को कम कर शुगर को नियंत्रित करने में मददगार होता है। आइए जानते हैं कि काले चने के पानी के सेवन से क्या स्वास्थ्य लाभ होते हैं और काले चने का पानी सही तरीके से कैसे पिया जाए।

कब और कैसे सेवन करें

मधुमेह के रोगी को नियमित रूप से धोकर दो मुट्ठी चना भिगो दें। इस ग्राम पानी को सुबह खाली पेट पिएं। रोजाना इसका सेवन आपके ब्लड शुगर लेवल को धीरे-धीरे नियंत्रित करेगा।

प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करना

बीमारियों से बचने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता का अच्छा होना बहुत जरूरी है। इसमें चने का पानी आपकी मदद कर सकता है।

काले चने में विटामिन के अलावा पर्याप्त मात्रा में क्लोरोफिल और फास्फोरस भी होता है। यदि मधुमेह रोगियों के अलावा अन्य लोग भी इसका रोजाना सेवन करें तो वे हमेशा स्वस्थ रहेंगे।

वसा दाहक

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन के अनुसार, रात भर भीगे हुए चने को उबालकर, सुबह पानी को छानकर, काला नमक, पुदीना, जीरा पाउडर मिलाकर पीने से पेट की चर्बी कम होती है।

पेट की समस्या से निजात

ज्यादातर बीमारियां पेट की समस्या से होती हैं। पेट दर्द और कब्ज जैसी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए भीगे हुए चने का सेवन करना चाहिए। भीगे हुए चने के पानी में जीरा और काला नमक मिलाकर पीने से लाभ होता है।

यह भी पढ़ें :–

कोरोना और ओमाइक्रोन से बचाएगी यह हरी सब्जी, आज से ही खाना शुरू कर दें

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.