महिला क्रिकेटर मिताली राज ने टी 20 से लिया संन्यास

भारतीय महिला क्रिकेट की पूर्व कप्तान मिताली राज ने टी 20 क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान किया है । वह काफी समय से टीम से बाहर भी चल रही है । 36 वर्षीय मिताली राज अब अपना पूरा ध्यान वन डे वर्ल्ड कप पर लगाना चाहती है । मिताली राज ने भारत के लिए ८९ टी 20 मुकाबले खेले हैं जिसमें मिताली राज का औसत ३७.52 रहा और उन्होंने टी 20 मैचो  में कुल 2364 रन बनाए हैं और जिसमे १७ अर्धशतक भी शामिल है । मिताली राज भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी हैं और उन्होंने 32 इंटरनेशनल  टी 20 मैच में भारतीय महिला टीम का नेतृत्व किया है और उन्ही के नेतृत्व में तीन बार भारती महिला टीम टी 20 वर्ल्ड कप में शामिल हुई थी ।

मिताली राज ने टी 20 से सन्यास की घोषणा करते कहा की ‘ 2006 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में भारत की तरफ से खेलने के बाद में इस फॉर्मेट से संन्यास लेने की घोषणा करती हूं , जिससे ने 2021 में होने वाले महिला वनडे विश्व कप की तैयारी पर फोकस कर सकता हूं । मेरा सपना है कि मैं अपने देश के लिए विश्वकप जीतूँ और इसके लिए मैं अपना बेस्ट देने की पूरी कोशिश करुँगी और लगातार सपोर्ट के लिए बीसीसीआई  शुक्रिया कहना चाहती हूं और भारतीय महिला टी 20 टीम को आने वाले समय के लिए शुभकामनाएं देती हूं ।

बीसीसीआई ने मिताली राज की इस घोषणा की जानकारी ट्विटर पर भी एक पोस्ट के माध्यम से दी है  । मालूम हो कि मिताली राज ने अपना आखिरी टी-20 का मुकाबला 2019 में मार्च में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था और उस मैच के दौरान मिताली राज ने 32 गेंदों पर नाबाद 30 रन बनाए थे । मिताली राज को भारतीय महिला क्रिकेट टी 20 टीम का पहला कैप्टन होने का भी दर्जा प्राप्त है । मिताली राज के नाम एक और रिकॉर्ड दर्ज है  जो रोहित शर्मा और विराट कोहली भी नहीं हासिल कर पाए थे । दरअसल मिताली राज भारत की पहली खिलाड़ी हैं जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय टी 20 क्रिकेट में भारत की तरफ से 2000 रन सबसे पहले बनाए थे ।

मिताली राज ने यह उपलब्धि रोहित शर्मा और विराट कोहली से पहले हासिल की थी । मिताली राज के नाम टेस्ट क्रिकेट मैच में दोहरा शतक बनाने वाली पहली महिला खिलाड़ी होने का रिकॉर्ड भी दर्ज है । मिताली राज ने भारतीय महिला क्रिकेट टीम का दो बार 2005 और 2017 में विश्व कप मैच में नेत्रिर्त्व किया है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.