|

मोटे अनाज में सेहत का राज

आज के जमाने में मोटा अनाज हमारी नियमित भोजन में इस्तेमाल नहीं होता है और यही वजह है कि शहर के काफी लोग मोटे अनाज से परिचित भी नहीं है । लेकिन आज भी ग्रामीण क्षेत्र के लोग मोटे अनाज से भलीभांति परिचित हैं । ज्यादातर  हम लोग रोज  भोजन में गेहूं और चावल को  शामिल  करते हैं । एक अच्छी सेहत के लिए हमे सभी प्रकार के मोटे अनाजों का सेवन करना चाहिए । जैसे कि जई, जौ,बाजरा और रागी को भी स्तेमाल करना चाहिए । अब तो डॉक्टर भी सलाह देते हैं कि भोजन में हमें मोटे अनाज को शामिल करना जरूरी है । मोटे अनाज के बहुत फायदे हैं । जौ को मोटे अनाज में शामिल किया जाता है जिसमे कई सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं । यह पेट के लिए भी काफी लाभदायक है और साथ ही यह पेट के हाजमा को भी दुरुस्त रखता है ।

यदि किसी को पथरी की समस्या हो जाती है तो उसे जो के पानी पीने की सलाह दी जाती है । जौ मोटापा कम करने में भी सहायक होता है । गेहूं के आटे की तरह जौ के आटे की रोटी का सेवन रोज किया जा सकता है । यह डायबिटीज के मरीजों के लिए जो रामबाग के जैसे है । गर्मियों में जौ को सत्तू के रूप में प्रयोग किया जा सकता है । जौ का पानी पीने से शरीर के अंदर के विषाक्त पदार्थ बाहर निकालते हैं और यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी मदद करता है । जौ में ग्लुकेन, मैगजीन, प्रोटीन, एमिनो एसिड फाइबर और कई सारे एंटी ओक्सिडेंट भी पाए जाते है ।

ज्वार का भी इस्तेमाल गेंहू के आटे की जगह  किया जा सकता है । गेहूं के बजाय ज्वार की रोटी के सेवन फायदेमंद है, क्योकि ज्वार में मिनिरल, प्रोटीन, फाइबर, पोटेशियम, फास्फोरस, आयरन और विटामिन बी काम्प्लेक्स जैसे पोषक तत्व पाए जाते है । ज्वार में पाया जाने वाला  कॉपर और आयन खून की कमी को दूर करने के साथ ही हड्डियो को भी मजबूत करता है । ज्वार गठिया के खतरे को भी कम करता है । इसका सेवन गर्मियों में काफी फायदेमंद होता है । शाकाहारी लोगो के लिए ज्वर प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत है । जई को ओट्स के नाम से भी जानते है । ओट्स में कैल्शियम, पोटेशियम, मैग्नीशियम और विटामिन ई भरपूर मात्रा में पाया जाता है और यह सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है ।

ओट्स में पाया जाने वाला एनेजिटोल खून में फैट के लेवल को नियंत्रित रखता है और पेट सम्बन्धी समस्स्याओ को भी दूर रखता है । इसके सेवन से डायबिटीज भी नियंत्रित रहता है । गर्मी में होने वाली समस्या जैसे चक्कर आना, दिल घबराना जैसी परेशानी में ओट्स फायदेमंद होता है । बाजरा खाने से ताकत मिलती है और यह वजन को भी नियंत्रित रखता है । बाजरा खाने से भूख कम लगती है । इसमे मैग्नीशियम और पोटेशियम पाए जाने के कारण यह ब्लड प्रेशर को भी न्यान्त्रित रखता है और पाचन को भी दुरस्त रखता है । रागी में कैल्शियम पाया जाता है और मोनोपाज के बाद महिलाओं के स्वस्थ को ठीक रखता है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.