शरीर में खून की कमी से हो सकता है डेंगू

बारिश का मौसम तमाम बीमारियों को लेकर आता है । बरसात का पानी कहीं पर भी जमा होता है तो उसमें मच्छर पनपने लगते हैं । मच्छरों से डेंगू बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है । डेंगू से पूरी दुनिया बेहाल है । भारत में भी बरसात के मौसम में डेंगू के कई सारे मरीज रोजाना देखने को मिलते रहते हैं । भारत में  समय-समय पर डेंगू को लेकर जागरूकता अभियान चलाए जाते रहते हैं, लेकिन इन सबके बावजूद भी भारत मे डेंगू के मरीजों की संख्या में हर साल बढोत्तरी देखने को मिलती है ।

डेंगू मच्छर के काटने से होने वाली बीमारी है । लेकिन अभी हाल ही में हुए एक शोध से यह बात सामने आई है कि उन लोगो मे डेंगू होने का खतरा  सर्वाधिक होता है जिन्हें  खून की कमी की समस्या होती है । शोध में पता चला है कि जिन लोगो मे खून की कमी होती है उन लोगों में डेंगू का वायरस बहुत तेजी से फैलता है । डेंगू को लेकर चीन मे शोध किया गया है, जिसमें इस बात की जानकारी मिली है कि जिन लोगों  के खून में आयरन की कमी होती है उन लोगों में डेंगू का खतरा अधिक होता है ।

डेंगू बारिश में बहुत तेजी से फैलता है । इस शोध को करने के लिए वैज्ञानिकों ने स्वस्थ इंसान के खून के नमूने लिए और  डेंगू के वायरस के नमूने को इसमें मिलाया और डेंगू के वायरस से मिले खून को मच्छरों को दे कर देखने की कोशिश की गई कि डेंगू का वायरस किन मच्छरों में तेजी से फैलता है और शोधकर्ताओं ने दो देखा वो आश्चर्यजनक था । शोधकर्ताओं ने देखा जिन मच्छरों को ज्यादा आयरन वाला खून दिया गया था उनमे डेंगू के लक्षण देखने को नही मिले । यह शोध नेचर माइक्रोबायोलॉजी में छापा गया है ।

मालून हो कि मच्छरों में भी खुद की प्रतिरोधक क्षमता पाई जाती है । क्योंकि मच्छरों के सेल खून से आयरन लेते है और फिर उस आयरन को रिएक्टिव ऑक्सीजन में बदल देते है और यही रिएक्टिव ऑक्सीजन डेंगू के वायरस को मारने में सहायक होता है  । इसलिए उनलोगों को डेंगू से बचाव के लिए ज्यादा सावधानी बरतने की जरुरत होती है जिन्हें खून की कमी की समस्या हो ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.