एक परिवार जिसके नाम दर्ज है सबसे ज्यादा नोबेल पुरस्कार जीतने का रिकार्ड

नोबेल पुरस्कार देने की सुरुआत 1901 से शुरू हुआ था । नोबेल पुरस्कार अलफ्रेड नोबेल के नाम से दिया जाता है । अल्फ्रेड नोबेल एक आविष्कारक और स्विडिश बिजनेसमैन थे । अल्फ्रेड नोबेल ने डायनामाइट का आविष्कार किया था । अल्फ्रेड नोबेल ने अपनी मृत्यु के पहले अपने आखिरी वसीहत में अपनी सारी अपने परिवार के सदस्यों को देने के बाद बची सारि दौलत उन अनाम लोगों के नाम कर दी थी जो अलग-अलग क्षेत्रों में समाज मे विशेष काम किए थे । अल्फ्रेड नोबेल की संपत्ति की देखरेख का जिम्मा स्वीडिश सेंट्रल बैंक को मिला था । मालूम हो हर साल फिजिक्स, केमिस्ट्री, मेडिसिन, साहित्य, शांति और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में दुनिया भर के लोगों में से इसके विजेता का चुनाव किया जाता है ।

1901 से शुरुआत के बाद से अब तक सिर्फ 49 बार ही ऐसा हाउस है जब नोबेल पुरस्कार नहीं दिया गया है । ऐसा भी हुआ है कि जब एक ही परिवार के कई सदस्यों को नोबेल पुरस्कार मिला है । ऐसे ही एक परिवार है मैडम मैरी क्यूरी का, जिसके नाम सबसे ज्यादा नोबेल पुरस्कार जीतने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है । मैरी क्यूरी का जन्म 1867 में हुआ था और वह पोलिश मूल की थी। मेरी क्यूरी को 1903 में रेडियोएक्टिव रेडियन और पोलोनियम की खोज के लिए फिजिक्स का नोबेल पुरस्कार मिला था । यह पुरस्कार उन्हें उनके पति फ्रांसीसी रसायनविद पियरे क्यूरी को संयुक्त रूप से मिला था ।

मेरी के पति पियरे क्यूरी की 10906 में एक दुर्घटना में तुरंत मृत्यु हो गई लेकिन फिर भी  मेरी क्यूरी ने खुद को सम्हाल कर अपने प्रोजेक्ट कर काम किया । 1911 में मैरी क्यूरी को केमिस्ट्री का नोबेल पुरस्कार रेडियम के शुद्धिकरण( इसोलेशन ऑफ प्योर रेडियम ) के लिए मिला था । रेडिएशन के खुले संपर्क में रहने की वजह से उन्हें ब्लड कैंसर हो गया । मेरी क्यूरी के हस्तलिखित पांडुलिपियों और काम की किताबों में भी रेडिएशन का असर मिला । यह तक कि आज भी मेरी क्यूरी का म्यूजियम देखने जाने वालों को मास्क पहनना पड़ता है ।

मेरी क्यूरी के बाद उनकी विरासत को उनकी बेटी इरीन जोलिओट क्यूरी ने सम्हाला । इरीन ने फ्रेडरिक जोलिओट से शादी कर ली और दोनों मिल कर मेरी के लैब में काम करने लगे । 1935 में इरीन जोलिओट को उनके पति  फ्रेडरिक जोलिओट के साथ संयुक्त रूप से बीटा डीके( beta decay) के लिए फिजिक्स का नोबेल पुरस्कार मिला था । यह रेडियोएक्टिव तत्व की ही सब कटेगरी है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.