भारत की सिस्टर मरियम थ्रेसिया को पोप फ्रांसिस ने संत की उपाधि दी

भारत के केरल की मरियम थ्रेसिया को उनकी मृत्यु के 93 साल बाद उन्हें संत की उपाधि से सम्मानित किया गया है । वेटिकन सिटी में रविवार को पोप फ्रांसिस ने भारत के केरल में जन्मी मरियम थ्रेसिया को संत की उपाधि प्रदान की । इस अवसर पर कैथोलिक चर्चों में लोग प्रार्थना करते नजर आए । भारत की मरियम थ्रेसिया को मिली इस उपाधि से भारत के लोगों में बेहद उत्साह नजर आया । सिस्टर मरियम की तुलना लोग मदर टेरेसा से करते हैं  । सिस्टर मरियम ने होली फैमिली नाम की एक धर्म सभा की स्थापना की थी । मालूम हो कि  सिस्टर मरियम का जन्म भारत के केरल राज्य के त्रिशूर जिले में हुआ था ।

सिस्टर मरियम होली फैमिली की स्थापना करने के साथ हॉस्टल, अनाथालय, स्कूल और कई सारे कान्वेंट भी बनाए थे और उनका संचालन भी किया था । सिस्टर मरियम ने समाज के लिए बहुत काम किया है । सिस्टर मरियम की इन्हीं कामों के लिए पोप फ्रांसिस ने सिस्टर मरियम को वेटिकन सिटी के सेंट पीटर्स स्क्वायर में संत की उपाधि दी है । सिस्टर मरियम का जन्म 26 अप्रैल 1876 को हुआ था और 50 साल की उम्र में ही 1926 में उनकी मृत्यु हो गई थी । सिस्टर मरियम की मृत्यु के लगभग 93 साल बाद पोप फ्रांसिस द्वारा संत की उपाधि प्रदान की गई है । सिस्टर मरियम ने महिलाओं की शिक्षा और महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए काम किए थे ।

मालूम हो कि इसके पहले भी उनके सूबे के तीन लोगों को संत की उपाधि प्रदान की जा चुकी है । पोप फ्रांसिस नेे सिस्टर मरियम के अलावा भी चार लोगों को संत की उपाधि दी । सिस्टर मरियम ने काफी कम उम्र में ही ईश्वर से अपने आपको जोड़ लिया था और मात्र 8 साल की उम्र में अपने आप को ईश्वर के प्रति समर्पित करके प्रार्थना और व्रत करने लगी थी । सिस्टर मरियम ने गरीबों और कुष्ठ रोगियों तथा चेचक से पीड़ित लोगों की बहुत सेवा की है । सिस्टर मरियम को बचपन में ही उनके दोस्तों ने उन्हें संत कह कर बुलाने लगे थे ।

मालूम हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यक्रम ‘मन की बात’ में सिस्टर मरियम को  संत की उपाधि दिए जाने के विषय में बात कही थी । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यक्रम मन की बात के दौरान बताया था कि भारत असाधारण लोगों की जन्मभूमि और कर्मभूमि रही है जो अपने लिए नहीं बल्कि दूसरों के लिए जीते हैं और साथ ही बताया था कि पोप फ्रांसिस द्वारा सिस्टर मरियम थ्रेसिया को संत की उपाधि मिलेगी जिससे पूरे भारत को गर्व की अनुभूति होगी ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.