जन्मते ही बच्ची डॉक्टर को घूरने लगी

जन्मते ही बच्ची डॉक्टर को घूरने लगी

अक्सर देखा जाता है कि जन्म लेते ही बच्चे रोने लगते हैं । लेकिन ब्राजील में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है । यहां पर एक बच्ची जन्म लेते ही रोने के बजाय डॉक्टर को घूरने लगी । जैसा कि सबको पता है डॉक्टर जन्म लेते ही बच्चे का स्वास्थ्य जानने के लिए कि वह सही प्रकार से सांस ले रहा है या नहीं बच्चे को रुलाते हैं, लेकि य बच्ची रोइ नही ।

ब्राजील के रियो डी जेनेरियो के एक अस्पताल में 13 जनवरी को एक बच्ची का जन्म हुआ लेकिन यह बच्ची जन्म के समय आम बच्चों की तरह रोई नही इसके बाद डॉक्टरों ने सोचा कि इसकी गर्भनाल काटने से पहले से रुलाया जाए ,लेकिन बच्ची अपने चेहरे पर गुस्से का भाव लिए डॉक्टर को एकदम से देखने लगी । बच्चे की तरह की हरकत से डॉक्टर भी एक बार तो हक्का-बक्का रह गए और उन्होंने तुरंत बच्ची की फोटो खींच ली ।

डॉक्टर ने बताया कि बच्चे की इस हरकत से वो हैरान थे । उनका कहना था कि आज तक उन्होंने ऐसे कभी नहीं देखा । डॉक्टर ने बताया कि जब उस बच्चे की गर्भनाल को काटा गया तब वह रोने लगी । इस तस्वीर को अस्पताल की तरफ से शेयर किया गया है । बच्ची के माता पिता ने अपनी बेटी का नाम इसाबेल परेरा डीजे जीसस रखा है ।

बच्चे की मां डायना अपनी बेटी के इस पल को संजो कर रखना चाहती थी इसलिए उन्होंने एक स्थानीय फोटोग्राफर को बुलाकर फोटो खिंचवाई । बच्चे की मां का कहना है कि यह तस्वीर इस बात को बयां करती है कि बच्ची कितनी बहादुर है । उन्होंने कहा कि मेरी बेटी पैदा ही बहादुर हुई ।

बच्ची की मां ने यह भी कहा कि मुझे पता है यह तस्वीर अब मीम बन चुकी है । जब भी उसका डाइपर खोला जाता है या उसका उपचार किया जाता है तो वह भौहें चढ़ा कर देखती है । इस तस्वीर को खींचने वाले फोटोग्राफर रोड्रिगो का कहना है कि डॉक्टर ने गर्भनाल को काटने से पहले बच्चे के रोने का इंतजार किया । लेकिन जब बच्ची ने अपनी आंखें खोली तब वह बिल्कुल भी नहीं रोई । फोटोग्राफर के अनुसार जब डॉक्टर ने उसे रोने को कहा तब बच्ची ने गंभीर सा चेहरा बनाकर डॉक्टरों की तरफ देखा और और जैसे ही डॉक्टर ने उसके गर्भनाल को काटा तो बच्ची रोने लगी ।

फोटोग्राफर का कहना है कि बच्चे का जन्म एक विशेष क्षण होता है और उसे रिकॉर्ड किया जाना चाहिए । वाकई यह एक बेहद साधारण सी लगने वाली असाधारण घटना है ।बच्ची एकदम स्वस्थ है लेकिन इसके बावजूद जन्म लेते ही रोने के बजाय वह डॉक्टरों को घूरने लगी । वह अक्सर ही ऐसा करती है अपने भौहें को चढ़ा कर लोगों को देखने लग जाती है और लोग आश्चर्यचकित होकर उसे देखते रह जाते है ।

एक तरह से यह एक बेहद दुर्लभ नजारा होता है क्योंकि सामान्यतः बच्चे  रोते हैं । यहां तक कि जब उनका उपचार किया जाता है या फिर उनका डायपर बदला जाता है तब भी वह रोने लग जाते है । लेकिन यह अपनी भौहें चढ़ा कर देखती है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.