जल जाने पर काम आने वाले कुछ घरेलू नुस्खे

जल जाने पर काम आने वाले कुछ घरेलू नुस्खे

आज हम बताने जा रहे है आप को जल जाने पर काम आने वाले कुछ घरेलू नुस्खे बारे में ।  कई बार घर या बाहर काम के दौरान अक्सर हाथ या शरीर के किसी अंग पर थोड़ी सी लापरवाही की वजह से जल जाते हैं । वैसे तो थोड़ा सा जल जाने से कोई फर्क नहीं पड़ता है लेकिन जब असावधानी वस शरीर का कोई अंग ज्यादा जल जाता है तो इसमें काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है और अगर तुरंत इलाज नहीं किया जाता है तो उस जगह की स्क्रीन खराब हो जाती है, इसका अलावा जो परेशानी उठानी पड़ती है वह अलग ।

इसलिए जलने पर सबसे पहले क्या करना चाहिए यह जाना जरूरी है । इसके बारे में हर किसी को मालूम होना ही चाहिए । अक्सर जब किसी भी वजह से जल जाए तो कोशिश करें कि तुरंत उस हिस्से को पानी से धोये और यदि ज्यादा जलन महसूस हो तो डॉक्टर को दिखा ले । कई बार ऐसा होता है कि हमें अस्पताल जाने की जरूरत नहीं होती है, थोड़ा बहुत ही जलने पर घर में उसका इलाज किया जा सकता है ।

चलिए जानते हैं जले हुए हिस्से की कैसे हम घरेलू तरीके अपनाकर देखभाल कर सकते हैं :—

ठंडा पानी :- अक्सर होता है कि महिलाएं खाना बनाते वक्त जल जाती हैं कभी हाथ तो कभी उंगली में । ऐसे में सबसे पहले जले हुए हिस्से को पानी से धोना चाहिए । कोशिश करनी चाहिए कि पानी हमेशा ठंडा रहे । बहुत ठंडा पानी का इस्तेमाल किया जा सकता है । ठंडे पानी से धोने से फफोले नहीं पड़ते । इसके अलावा जले हुए हिस्से पर ठंडे पानी में भिगोकर कपड़ा भी लपेटा जा सकता है ।

हल्दी का पानी :- हल्दी तो सेहत के लिए फायदेमंद होती है यह सब जानते हैं लेकिन हल्दी का पानी भी जलने पर काफी काम आता है । जले हुए स्थान पर हल्दी का पानी लगाने से जलन कम हो जाती है साथ ही दर्द भी कम हो जाता है क्योंकि हल्दी में दर्द काम करने की क्षमता पाई जाती है ।

शहद :- शहद में एंटीबायोटिक होता है इसलिए यह जले हुए घाव लगाने से बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं। जले हुए घाव पर शहद को पट्टी पर लगाकर दिन में दो से तीन बार पट्टी करें तो काफी राहत मिलती है।

तुलसी :- तुलसी के पत्ते के रस को जले हुए स्थान पर लगाया जा सकता है । तुलसी के पत्ते का रस लगाने से जलेने के बाद इसका निशान नहीं रह जाता है । अक्सर देखा जाता है कि जले हुए स्थान पर काफी समय तक के लिए निशान बन जाता है लेकिन अगर जले हुए स्थान पर तुलसी का रस लगाया जाता है तो उससे निशान नहीं पड़ता है ।

एलोवेरा का इस्तेमाल – बहुत कम लोगों को पता होगा कि एलोवेरा का इस्तेमाल जलने पर किया जा सकता है । जले हुए स्थान पर एलोवेरा जेल को लगाने से राहत मिलती है और ठंडक महसूस होती है ।

सावधानी :- जले हुए स्थान पर अक्सर लोग बर्फ का इस्तेमाल करते हैं और बर्फ से सिकाई करने लगते हैं लेकिन हमेशा ध्यान रखें कि बर्फ से जलन भले ही कम हो जाती है लेकिन इससे वहां खून जमा हो सकता है । ऐसे में बर्फ की तुलना में ठंडे पानी का इस्तेमाल ज्यादा फायदेमंद होता है । जले हुए स्थान पर रुई का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि यह घाव पर चिपक सकती है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.