माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स ने 2015 में ही कोरोना वायरस की भविष्यवाणी की थी !

माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स ने 2015 में ही कोरोना वायरस की भविष्यवाणी की थी !

पूरी दुनिया कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार से परेशान हो चुकी है । हर दिन मौतों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है । किसी को भी इस बात की कोई उम्मीद नहीं थी कि एक वक्त ऐसा भी आ सकता है जब जब किसी वायरस की वजह से पूरी दुनिया की यह स्थिति हो जाएगी,सारी चीजें ठप पड़ जाएगी और लोग अपनी जान बचाने की हर जुगत करने लगेंगे ।

वहीं कुछ लोग और कुछ किताबों द्वारा दावा दावा किया जा रहा है कि उन लोगों ने कोरोनावायरस को लेकर पहले ही भविष्यवाणी कर दी थी । अब कोरोना वायरस को लेकर भविष्यवाणी करने वाले में बिल गेट्स का नाम भी आ रहा है जो कि माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक हैं । माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स ने कोरोना वायरस को लेकर साल 2015 में ही भविष्यवाणी कर दी थी ।

लेकिन लोगों ने इसे समझा नहीं और नतीजा यह हुआ कि आज करोना वायरस वैश्विक स्तर पर तबाही मचा रहा है । बिल गेट्स ने नेटफ्लिक्स को 2015 में एक इंटरव्यू में बताया था कि एक महामारी चीन के मार्केट से शुरू होगी और यह चीन और पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लेगी और आज कोरोना वायरस के संदर्भ में बिल गेट्स की कही बात सच होकर सामने आ रही है ।

बिल गेट्स ने अपने इंटरव्यू में कहा था कि कुछ साल बाद एक महामारी वैसे का स्तर पर फैलेगीजिसने लाखों लोगों की जाने जाएगी तथा पूरी अर्थव्यवस्था बुरी तरीके से प्रभावित होगी । उन्होंने अनुमान जताया था कि किसी वायरस की वजह से द्वितीय विश्व युद्ध में हुई मौतों से भी ज्यादा मौतें आने वाले साल में देखने को मिलेगी तथा इसके अलावा भी नुकसान देखने को मिलेंगे ।

मालूम हो कि कोरोनावायरस के वजह से दुनियाभर में 236000 लोग संक्रमित हैं और करीब 10 हजार लोगों की मौत कोरोना वायरस से हो चुकी है । कोरोना वायरस से से मरने वालों की संख्या सबसे ज्यादा चीन में है, उसके बाद  अब कोरोना वायरस इटली में कहर बरपा रहा है । चीन के बाद सबसे ज्यादा कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या इटली में पाई गई है, हालात इतने बुरे हो गए हैं कि शव को दफनाने के लिए इटली में सेना लगाई गई है ।

बिल गेट्स ने जब इस तरह के किसी वायरस की संभावना व्यक्त की थी तब उन्होंने यह भी कहा था कि धनी देशों को इस तरह के महामारी से बचने के लिए सचेत हो जाना चाहिए ।

इसके लिए तुरंत ही कदम उठाने चाहिए तथा युद्ध स्तर पर तैयारी शुरू कर देनी चाहिए तभी महामारी से बचा जा सकेगा नही तो स्थिति काफी ज्यादा भयावह हो जाएगी । बिल गेट्स ने यह भी कहा था कि आने वाले कुछ सालों में युद्ध या किसी भी मिसाइल हमले में इतनी मौतें नहीं होंगी जितनी कि किसी वायरस की वजह से हो सकती हैं ।

मालूम हो कि साल 2013 से 2016 के बीच पश्चिमी अफ्रीका में करीब 11000 लोगों की मौत ईबोला वायरस से हुई थी हालांकि यह सिर्फ पश्चिम अफ्रीका तक ही सीमित है लेकिन कोरोना वायरस वैश्विक स्तर पर तबाही मचा रहा है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.