क्या जापान जानता है नेता Subhash Chandra Bose के गायब होने का पूरा सच

क्या जापान जानता है Subhash Chandra Bose के गायब होने का पूरा सच!

आजादी के महानायक नेता Subhash Chandra Bose के गायब होने का सच जापान को पता है, ऐसा कहना है नेताजी के परपौत्र चंद्र कुमार बोस का।

उन्होंने दावा किया है कि जापान सरकार के पास नेताजी के गायब होने संबंधी 3 बेहद महत्वपूर्ण फाइलें रखी हुई है, जिसे जापान ने आज तक भारत को नही सौंपा है।

इन फाइलों के जरिए ही नेताजी के गायब होने का सच लोगों के सामने आ सकता है। उन्होंने बताया कि 14 अक्टूबर 2014 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में एक बैठक हुई थी।

जिसमें तत्कालीन विदेश मंत्री स्व० सुषमा स्वराज भी मौजूद थी और उन्होंने सूचित किया था कि वह रूस, जापान, इंग्लैंड, समेत विभिन्न देशों को पत्र लिखकर उनसे अनुरोध कर रही है कि इन देशों के पास नेताजी से जुड़ी जो भी फाइलें हैं, वह उन्हें जल्द से जल्द भारत सरकार को सौंप दें।

जवाब में जापान की सरकार की तरफ से एक पत्र आया था। उस पत्र में कहा गया था कि उसके पास नेताजी से जुड़ी पांच फायदे हैं। लेकिन जापान ने अभी तक भारत सरकार को सिर्फ दो फाइलें ही उपलब्ध करवाई है। तीन फाइलें अभी तक जापान ने उपलब्ध नही करवाई है।

इन दो फाइलों से मिली जानकारी से नेताजी Subhash Chandra Bose के बारे में कुछ तस्वीरें साफ हो रही हैं लेकिन बाकी तीन फ़ाइल, जो अभी तक नहीं मिली है, उनकी बहुत महत्वपूर्ण बताई जा रही हैं।

Neta ji
Neta ji

ऐसा कहा जा रहा है कि उन फाइलों के आने से नेताजी के गायब होने के राज से पर्दा उठ जाएगा। बता दें कि नेता सुभाष चंद्र बोस को लेकर काफी लंबे समय से कहानियां बताई जा रही है और इन फाइलों के आ जाने से इन फेक थ्योरी पर विराम लग सकता है।

मालूम हो कि नेता Subhash Chandra Bose 1941 से 1945 के दौरान कई बार जापान गए थे, ऐसा कहना है उनके पर पोते का। जापान की इंपीरियल आर्मी के जनरल हीदेकी तोजो के साथ नेताजी के अच्छे संबंध थे।

Second Word War  की समाप्ति के समय जापान के विदेश मंत्री ने नेताजी को “हीरो ऑफ द एशिया” की उपाधि प्रदान की थी। बता दें कि उस समय भारत का जापान के साथ अच्छा रिश्ता था।

अब नेताजी के परपोते चाहते हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जापान सरकार से बातचीत कर के उन फाइलों के लिए अनुरोध करें कि जापान के पास नेताजी से जुड़े जो तीन फाइलें हैं वह उन्हें सौंप दें।

बता दें कि इसके पहले जर्मनी में रह रही नेता जी की पुत्री Anita Bose ने भी पीएम मोदी को कई बार पत्र लिखकर जापान से फाइलें लेने का अनुरोध किया है।

तो क्या वाकई में जापान के पास नेताजी Subhash Chandra Bose के गायब होने का सबूत है या उसके बारे में जानकारी मिल सकती है? क्या वो तीन फाइलें नेताजी से जुड़े सारे राज को खोल देंगी ?

भारत सरकार को चाहिए कि जल्द से जल्द वह इस मुद्दे पर बातचीत करें और जापान से अनुरोध करें कि वह नेता जी Subhash Chandra Bose से जुड़ी सारी फाइलें भारत सरकार को सौंप दें, जिससे नेताजी से जुड़ी सारी सच्चाई लोगों के सामने आ सके।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.