आखिर क्यों आसमान में उड़ रहे लड़ाकू विमान हो रहे हैं क्रैश : क्या है इसकी वजह

अर्चना
महात्मा पोस्ट के लिए

नौसेना के लड़ाकू विमान आसमान में उड़ान भरते वक्त क्रैश हो गया । यह खबर अभी हाल की ही है । लेकिन इसके पहले भी नौसेना के लड़ाकू विमानों के क्रैश होने की खबर आ चुकी है । इस साल 2019 में अब तक भारतीय वायुसेना के 4 लड़ाकू विमान आसमान में क्रैश हो चुके हैं ।

ये चारों लड़ाकू विमान उड़ान भरने के कुछ ही देर बाद दुर्घटना का शिकार हो गए थे । गनीमत इस बात की रही है कि इन दुर्घटनाओ में विमान चला रहे पायलट को किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ और वो सब सही सलामत हैं ।

एक बात ध्यान देने योग्य है कि विमान क्रैश होने का हादसा तभी होता है जब विमान प्रशिक्षण के लिए आसमान में उड़ते हैं । विमान में सवार कमांडर और पायलट अपने को सुरक्षित इंजेक्ट करके जान बचा देते हैं ।

अभी शनिवार को गोवा में भी एक फाइटर जेट इसी तरीके से आसमान में क्रैश गया । इस विमान के इंजन में भी आग लगने की बात सामने आई और विमान में सवार कमांडर और पायलट ने अपने आप को सुरक्षित बाहर निकाल कर अपनी जान बचाई ।

मालूम हो कि इन विमानों को पांच दशक पहले नौसेना में शामिल किया गया था और अब इन विमानों के क्रैश होने की घटना आम बात हो गई है । नौसेना के अधिकारी भी प्रशिक्षण विमानों को बदलने की मांग काफी समय से कर रहे हैं ।

लेकिन अभी तक इस संदर्भ में कोई भी काम नहीं किया गया है । गोवा में मिग – 29 K लड़ाकू विमान क्रैश हो गया था । सेना से मिली जानकारी से पता चला कि उड़ान भरने के थोड़ी देर बाद ही हुए लड़ाकू विमान आसमान में क्रैश हो गया ।

विमान अपनी प्रशिक्षण उड़ान पर था और इसी दौरान दुर्घटना का शिकार हो गया । विमान में एक कमांडर और एक पायलट सवार थे जो अपने आप को सुरक्षित इजेक्ट करके बाहर निकाल लिए और अपनी जान बचाने में सफल रहे ।

यह विमान मिग के फाइटर जेट संस्करण का ट्रेनर विमान था । बताया जाता है कि विमान के इंजन में आग लगने के कारण यह हादसा हुआ और विमान से पक्षी के टकराने की वजह से हुआ था । इसके पहले भी सितंबर माह में एक विमान ग्वालियर में क्रैश हुआ था ।

पहले भी इसी तरह का हादसा हो चुका है । मार्च में राजस्थान के बीकानेर में विमान क्रैश हुआ था जिसमें विमान के पायलट ने विमान के क्रैश होने से पहले पैराशूट के सहारे छलांग लगाकर जान बचाई थी ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.