क्या अब हमेशा के लिए लोग छोड़ देने अपनी हाथ मिलाने की आदत

क्या अब हमेशा के लिए लोग छोड़ देंगे अपनी हाथ मिलाने की आदत

कोरोना वायरस चीन के बाद पूरी दुनिया मे अब अपना कहर बरपा रहा है । कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आने पर फैलता है इसलिए लोगो को हाथ न मिलाने और सामुदायिक दूरी बनाने के लिए कहा जा रहा है । पहले दुनिया के तमाम देश और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी लोगों से कहा कि वे एक दूसरे से एक निश्चित दूरी बनाकर रखें तथा हाथ ना मिलाएं ।

अब अमेरिकी विशेषज्ञों द्वारा भी यही सलाह दी जा रही है कि लोग हाँथ न मिलाए । मालूम हो कि कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 15 लाख से अधिक हो गई है वहीं 90 हजार से ज्यादा लोग कोरोना वायरस की वजह से मर चुके हैं । अगर बात सिर्फ अमेरिका की करे तो अमेरिका में कोरोना वायरस अब तक 43000 से भी ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं तथा मरने वालों की संख्या 15000 तक पहुंच चुकी है ।

अब इटली के बाद अमेरिका दूसरा ऐसा देश है जहां पर कोरोनावायरस की वजह से सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं । ऐसे विशेषज्ञों का कहना है कि लोगो को हाथ मिलाने की आदत को बदलना होगा । अमेरिका में संक्रामक बीमारियों के शीर्ष विशेषज्ञ और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एनर्जी एंड इनफेक्शंस डिजीज के डायरेक्टर एंथोनी फॉसी ने कहा है लोगो को एक दूसरे से अब कभी भी हाथ नही मिलाना चाहिए । क्योंकि हाथ मिलाने से संक्रामक बीमारियों के फैलने का खतरा होता है ।

क्योंकि हाथ मिलाने की आदत छोड़ने की वजह से कोरोना वायरस के साथ-साथ दुनिया भर में इन्फ्लूएंजा के मामले में भी कमी देखने को मिलेगी । मालूम हो कि एंथनी व्हाइट हाउस द्वारा बनाई गई टास्क फोर्स, जो कि कोरोनावायरस के चलते बनाई गई है, के प्रमुख है । टाइम डॉट कॉम के अनुसार उन्होंने यह भी कहा कि लोगों को बार-बार हाथ धुलने को अब अपनी रोजाना की जिंदगी का हिस्सा बनाना चाहिए।

हाँथ न मिलाने और हाथों को बार-बार धोने से कोरोना वायरस के अलावा कई तरह की संक्रामक बीमारियों को फैलने से रोकने में मदद मिलेगी क्योंकि हाथ मिलाने और हाथ ना धोने की वजह से ही कई तरह की संक्रामक बीमारियां एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति काफी तेजी से फैलती है । उन्होंने यह बात उस वक्त कही जब उनसे पूछा गया कि कोरोना वायरस और अन्य दूसरी बीमारियों को फैलने से कैसे रोका जाए,  तब उन्होंने यह बात कही ।

मालूम हो कि दुनिया के तमाम देशों के राजनेता हाथ मिलाने की आदत को छोड़कर अभिवादन के लिए नमस्ते की परंपरा की शुरुआत कर रहे हैं । बता दे नमस्ते भारतीय अभिवादन की परंपरा रही है । यहां तक कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने लोगों से कहा कि लोग हाथ मिलाने के बजाय नमस्ते करने की आदत बनाए । आंकड़ों के मुताबिक वर्तमान समय में अमेरिका में सबसे ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित है ।

जिसके चलते यहां पर कई शहरों को लॉक डाउन करके बंद कर दिया गया है और यहां मरने वालों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है ।अमेरिका ने भारत से मलेरिया रोधी हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन दवा की मांग की थी । यह दवा कोरोनावायरस कि इलाज में काफी उपयोगी है और भारत इस दवा का सबसे बड़ा निर्माता देश है ।भारत ने ना सिर्फ अमेरिका को बल्कि ब्राजील को भी इस दवा की सप्लाई कर रहा है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.