क्या लोग मजाक की वजह से अपने मोटापे को कम नही कर पा रहे

क्या लोग मजाक की वजह से अपने मोटापे को कम नही कर पा रहे

क्या मोटे लोग मोटापा इसलिए कम नहीं कर पाते हैं क्योंकि उनका लोग मजाक उड़ाते हैं ? जी हां ..एक शोध में इस बात का खुलासा हुआ है कि मोटे लोग अपने मोटापे को इसलिए नहीं कम कर पाते हैं क्योंकि लोग उनका मजाक उड़ाते हैं । भारत में मोटापा तेजी से एक महामारी की तरह से फैल रहा है । लोग मोटे लोगों को आलसी या फिर मोटा कह कर बुलाते हैं ।

लंदन के किंग्स कॉलेज में मोटापा पर एक शोध हुआ जिसे नेचर मेडिसिन जनरल में प्रकाशित किया गया है । इस शोध में कहा गया है कि जो लोग मोटे होते हैं या फिर जिनका वजन अधिक होता है उनको मोटा या आलसी कहने की वजह से वे लोग अपना मोटापा कम नहीं कर पाते हैं और इससे उन्हें शारीरिक परेशानी के साथ-साथ मानसिक परेशानी का भी सामना करना पड़ता है ।

उसमे कहीं इन बातों को दुनिया भर के 100 से अधिक डॉक्टरों ने सही माना है । किंग्स कॉलेज के प्रोफेसर फ्रांसिस्को रुबीनो ने लोगों को कहा है कि लोगो द्वारा मजाक उड़ाने के वजह से मोटे लोग  मोटापे को कम नही कर पाते । लोग शपथ ले कि वो मोटापे को खत्म करने की कोशिश करेंगे ।

उनका कहना है कि मोटापा एक समस्या है और इसे हम सामाजिक और मानवाधिकार की तरह लेते है । उनका कहना है कि मोटे लोगों की प्रतिरोधक क्षमता घटने के पीछे वजह यह है कि उन्हें लोग मोटा या आलसी बुलाते हैं । डॉक्टरों का यह भी मानना है कि जो लोग मोटे होते हैं उन्हें भेदभाव और मानसिक प्रताड़ना का सामना करना पड़ता है ।

यह ठीक उसी तरह से होता है जैसे जिन लोगो को कालरा, एचआईवी और प्लेग जैसी बीमारी न होने की वजह के बाद भी भेदभाव के शिकार हो । डॉक्टर और वैज्ञानिकों ने इस बात को स्पष्ट किया है कि मोटापा के लिए उस व्यक्ति के साथ-साथ उसका जैविक, अनुवांशिक और पर्यावरण भी काफी हद तक जिम्मेदार है । ऐसे में जरूरत है कि अधिक वजन लोगों के साथ भी समान व्यवहार किया जाए तथा दूसरे लोगों को भी ऐसा करने के लिए कहा जाए और इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए की वजन अधिक होने की वजह से या मोटे होने की वजह से उनका मजाक न उड़ाया जाए ।

एक अनुमान के मुताबिक साल 2045 तक दुनिया में हर पांचवां व्यक्ति मोटापे की समस्या से ग्रस्त होगा । ऐसे लोग मोटापे को एक बीमारी कहना शुरू कर देंगे और इसके लिए लोग दवाई और सर्जरी के जरिए अपना मोटापा कम करने की कोशिश करेंगे । जो लोग मोटापे की शिकार होते हैं उन्हें कई तरह की जानलेवा बीमारियां होने की संभावना सबसे अधिक रहती है इसमें टाइप टू डायबिटीज, दिल से जुड़ी बीमारियाँ, स्तन कैंसर, स्ट्रोक जैसी बीमारियां होने की संभावना अधिक रहती है ।

साथ ही जो लोग मोटे होते हैं उनका मासिक समस्या से भी जूझना होता है साथ ही उनके जीवन की गुणवत्ता भी खराब रहती है । मोटे लोग खुद को हताश और डिप्रेशन में जीने के लिए मजबूर हो जाते हैं । मोटे लोगों को गर्भधारण के समय हाई ब्लड प्रेशर की समस्या का सामना करना पड़ता है । एक अनुमान के मुताबिक भारत में 13.5 कारों लोग मोटापे की समस्या से ग्रस्त है जिसमें करीब 15 फीसदी लोग आलसी होने की वजह से तथा 27 फ़ीसदी लोग सही खानपान ना होने की वजह से मोटापे के शिकार है ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.