परवीन बॉबी की पुण्यतिथि पर उनसे जुड़ी कुछ बाते

70 के दशक की मशहूर अभिनेत्री परवीन बॉबी की पुण्यतिथि पर उनसे जुड़ी कुछ बाते

70 – 80 के दशक में बॉलीवुड अभिनेत्री परवीन बॉबी लोगों के दिलों पर राज करती थी । वो उस समय एक खुले विचारों वाली और खूबसूरत अभिनेत्री थी । उन्होंने ही फैशन मैगजीन पर कवर फ़ोटो सबसे पहले शूट करवाया था । मॉर्डन ड्रेस का चलन उनसे ही शुरू हुआ । भले वह 70 का जमाना रहा हो लेकिन वह आज के जमाने के महिलाओं की तरह थी ।

परवीन बॉबी का जन्म 4 अप्रैल 1949 को सौराष्ट्र के जूनागढ़ के एक मुस्लिम घराने में हुआ था । उन्होंने अहमदाबाद के सेंट जेवियर्स कॉलेज से अंग्रेजी साहित्य में बीए किया था और मॉडलिंग करती थी । परवीन बॉबी क्रिकेटर सलीम दुर्रानी केे साथ 1973 में “चरित्र” फ़िल्म से बॉलीवुड में कदम रखा था ।

परवीन बॉबी के सबसे कामयाब पहली फिल्म “मजबूर” थी, जिसमें उनके साथ अभिनेता अमिताभ बच्चन ने काम किया था । परवीन बॉबी के 15 साल के करियर में उन्होंने 50 फिल्में की , जिसमें 12 दिन में अमिताभ बच्चन के साथ की थी । परवीन बॉबी उन दिनों सबसे महंगी अभिनेत्री हुआ करती थी ।

परवीन बॉबी और महेश भट्ट का  प्यार ‘अमर अकबर एंथोनी’ और ‘काला पत्थर’ की शूटिंग के दौरान चरम पर था । वे दोनों एक दूसरे के प्यार में पागल से  थे और महेश भट्ट ने अपनी पत्नी और बेटी को छोड़कर परवीन के साथ 2 साल लिव इन रिलेशन में रहे । परवीन बॉबी अपनी जिंदगी में तीन लोगों के साथ रिश्ते रही थी ।

महेश भट्ट, कबीर बेदी और डैनी । उन दिनों महेश भट्ट एक फ्लॉप फ़िल्म मेकर थे। जब परबीन बॉबी महेश भट्ट के साथ रिस्ते में थी तभी उन्हें मानसिक बीमारी हो गई जिसे महेश भट्ट ने अपने कई इंटरव्यू में पैरानायड स्कितजोफ्रेनिया बताया । महेश भट्ट ने परवीन को सारे अच्छे डॉक्टर से इलाज करवाया और डॉक्टरों ने ठीक करने के लिए इलेक्ट्रिक शॉट देने की बात कही लेकिन महेश भट्ट इसके सख्त खिलाफ थे ।

परवीन बॉबी के मन मे यह शक बैठ गया था कि कोई उन्हें मारना चाहता है । परबीन बॉबी इस बीमारी से उबर नही पाई और अंतिम दिनों में उनकी हालत यह हो गई थी कि उन्हें कमरे में कैद कर के रखा जाने लगा था ।

इस दौरान उनका वजन काफी बढ़ गया और दिन ब दिन उनकी खूबसूरती खोती गई । अंत मे हार कर डॉक्टरों ने कहा इलेक्ट्रिक शाक देने के अलावा कोई विकल्प नही है लेकिन महेश भट्ट इसके शख्त खिलाफ थे । लोगो ने यहाँ तक कहा कि महेश भट्ट ने उनका इस्तेमाल किया और वह उन्हें ठीक नही होने देना चाहते थे ।

इस बीमारी से जूझने के दौरान उन्होंने कई सारे अभिनेताओं पर अपनी हत्या के शक में केश तक दर्ज करवा दिए थे । अपने अंतिम दिनों में वो बहुत अकेली हो गई थी । हालत ये थी उनकी मौत के बाद तीन दिन तक उनकी लाश बेड पर सड़ती रही । 56 साल की उम्र में 20 जनवरी 2005 को उन्होंने इस दुनिया को अलविदा कह दिया ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.