salman khan in jail

सलमान खान को फिर से जेल भेजने की तैयारी

काला हिरण  शिकार मामला सलमान का पीछा छोड़ने का नाम नहीं ले रहा और इधर सुनवाई  में पेश न होने पर फिर से उनको नोटिस जारी किया गया है। काला हिरण शिकार मामले में गुरुवार को जोधपुर(राजस्थान) की अदालत ने अभिनेता सलमान खान को चेतावनी दी है कि मामले में अगली सुनवाई में यदि अभिनेता पेश नहीं हुए तो उनकी जमानत रद्द कर दी जाएगी।

अभिनेता को पूर्व में भी चेतावनी दी गई थी लेकिन वे सुनवाई में पेश नहीं हुए ,अदालत ने तब मामले की सुनवाई को 27 सितंबर के लिए निश्चित किया था और इसी सम्बन्ध में नोटिस जारी किया गया है ।

जानिए क्या है काला हिरण शिकार  का पूरा मामला ?

सलमान इस केस में आखिर कैसे फंसे ?

क्या हुआ था आखिर अक्टूबर  1998 को ?

यह मामला दो अक्टूबर 1998 का है, जब राजश्री प्रोडक्शन्स की फिल्म ‘हम साथ साथ हैं‘ की शूटिंग राजस्थान राज्य के जोधपुर में चल रही थी उसी समय सलमान खान पर काले हिरण का शिकार करने का मामला दर्ज किया गया था । जब काला हिरण पर गोलियां चलाई गयी तो आवाज़ सुनकर वहां के ग्रामीण आये और उन्होंने देखा की सलमान खान जिप्सी चला रहे थे और उनके आने के बाद वे हिरण के शव को छोड़कर वहां से फरार हो गए ।

सलमान खान वन्यजीव संरक्षण कानून की धारा 51 और अन्य कलाकार वन्यजीव संरक्षण कानून की धारा 51 तथा भारतीय दंड संहिता की धारा 149 (गैरकानूनी जमावड़ा) के तहत आरोपों का सामना कर रहे हैं । इस मामले में दो अन्य आरोपियों के नाम दुष्यंत सिंह  और दिनेश सिंह हैं। गवाहों के अनुसार हिरण के शिकार के समय दुष्यंत सिंह सलमान के साथ था जबकि दिनेश सिंह के बारे में कहा जाता है कि वह सलमान खान का सहायक है  ।

काला हिरण एक लुप्तप्राय और संरक्षित प्रजाति है और भारतीय वन्यजीव अधिनियम के अनुसूची 1 के तहत इसे सुरक्षित किया गया है.। 1998 में अपनी फिल्म ‘हम साथ साथ हैं‘ की शूटिंग के दौरान जोधपुर में दो काले हिरणो की हत्या के दोषी पाए जाने के बाद पिछले साल अदालत ने उन्हें  5 अप्रैल को पांच साल कैद की सजा सुनाई गई थी।हालांकि, जोधपुर जेल में दो रातें बिताने के बाद अदालत ने उन्हें जमानत दे दी।

उनके सहकलाकारों – सैफ अली खान, सोनाली बेंद्रे, नीलम कोठारी और तब्बू – के अलावा एक अन्य आरोपी दुष्यंत सिंह को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया गया।  मई में, राजस्थान उच्च न्यायालय की जोधपुर पीठ ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत द्वारा उनके बरी होने के खिलाफ राजस्थान सरकार की अपील के बाद अभिनेताओं को नए नोटिस जारी किए थे।

दुष्यंत सिंह को भी नोटिस जारी किया गया क्योंकि तब अवैध शिकार के वक़्त वह सलमान के साथ था। उच्च न्यायालय ने 11 मार्च को राज्य सरकार की अपील पर इस मामले में दोषी अन्य पांच लोगों को बरी किए जाने के फैसले पर याचिका दायर की थी।

अब देखना ये है की आखिर ‘टाइगर ‘ कब तक ‘हिरण ‘ से भागता रहेगा।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.