लॉरियास अवार्ड को सचिन तेंदुलकर ने क्रिकेट के फैंस को समर्पित किया

लॉरियास अवार्ड को सचिन तेंदुलकर ने क्रिकेट के फैंस को समर्पित किया

सचिन तेंदुलकर भारतीय क्रिकेट टीम के एक महान बल्लेबाज में गिने जाते हैं । सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है । सचिन को लॉरियास सपोर्टिंग मोमेंट अवार्ड से नवाजा गया है । 20 साल में  पहली बार यह अवार्ड किसी को दिया गया है  । सचिन तेंदुलकर को यह अवार्ड 2011 के विश्व कप फाइनल में मिली जीत के बाद भारतीय टीम के खिलाड़ियों ने सचिन को अपने कंधे पर उठाया था  ,उसी मोमेंट के लिए सचिन तेंदुलकर को इस सम्मान से सम्मानित किया गया है ।

यह अवार्ड भारतीय क्रिकेट टीम के फैंस को समर्पित  है सचिन तेंदुलकर ने ये कहा । समारोह में  सम्मिलित होने से पहले पूर्व दिक्कत बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने  ट्वीट करते हुए ऐलान किया कि वो अपना  अवार्ड भारत के नाम समर्पित करना चाहते हैं ।

सचिन तेंदुलकर ने अपने ट्वीट में लिखा इतना प्यार और समर्थन देने के लिए आप सभी का शुक्रिया नेशनल अवार्ड को भारत अपनी टीम के साथी खिलाड़ी  फैंस और भारत और दुनिया भर की भारतीय क्रिकेट टीम के शुभचिंतकों को समर्पित करना चाहता हूं, जो हमेशा भारतीय क्रिकेट का समर्थन करते हैं ।

मालूम हो कि साल 2011 के विश्व कप में सचिन तेंदुलकर  भारतीय टीम का हिस्सा थे और उस विश्व कप में भारतीय टीम को 1983 के बाद जीत हासिल हुई थी । जीत का जश्न मनाते हुए भारतीय टीम के खिलाड़ियों ने सचिन को अपने कंधे पर उठाकर मैदान का लैप ऑफ ऑनर लगाया था और इस दौरान सचिन की आंखों से खुशी के आंसू  गिरे थे  ।

भारत में विश्व कप का फाइनल मैच घरेलू मैदान मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में जीता था  । भारत के 2011 के विश्व कप मैच में मिली जीत के संदर्भ में सचिन से जुड़े लम्हों को अवार्ड में “कैरीड ऑन द सोल्डर ऑफ अ नेशन” नाम का शीर्षक दिया गया है । 9 साल पहले सचिन तेंदुलकर अपना छठ में विश्वकप खेल के दौरान विश्व कप जीतने वाली टीम के सदस्य थे ।

भारत ने यह विश्व कप पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में जीता था और फाइनल के मैच में श्रीलंका को हराया था । यह ख़िताब पिछले 20 साल के लिए महानतम लॉरियास सपोर्टिंग मोमेंट के लिए दिया गया है जिसमें सचिन तेंदुलकर के पक्ष में सबसे ज्यादा वोट पड़े और सचिन तेंदुलकर इसके विजेता बने ।

सचिन तेंदुलकर ने अवार्ड भारतीय क्रिकेट टीम के फैंस के नाम समर्पित करके भारतीयों का दिल जीतने का काम किया है । मालूम हो कि क्रिकेट के मैदान पर सचिन के नाम कई सारे रिकॉर्ड से जैसी कोई बराबरी नहीं कर पाया है । अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच और वनडे क्रिकेट में सचिन तेंदुलकर के नाम एक से बढ़कर एक कई रिकार्ड दर्ज है ।

तो वही भारत के घरेलू लीग यानी कि इंडियन प्रीमियर लीग में भी सचिन के नाम एक शानदार रिकॉर्ड है । सचिन ने आईपीएल में भतार कप्तान शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज है । सचिन ने आईपीएल में 66 गेंदों पर 12 चौके और तीन छक्के की मदद से नाबाद 100 की पारी खेली थी ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.